रविवार, 14 मार्च 2010

क्लिष्ट, क्लिष्टाक्लिष्टा

क्लिष्ट 
वेदों और शास्त्रों में 'क्लिष्ट' शब्द ग्रीक भाषा के शब्द 'kleistos' से लिया गया है जिसका अर्थ 'बंद' है. आधुनिक संस्कृत में इसका अर्थ 'कठिन' है जो वेदों और शास्त्रों के हिंदी अनुवादों में उपयोग करना गलत है.

क्लिष्टाक्लिष्टा 
पतंजलि योगसूत्र तथा संभवतः अन्य शास्त्रों में उपस्थित यह शब्द तत्कालीन भाषा विज्ञानं का शिक्षाप्रद  उदहारण है. क्लिष्ट शब्द के मौलिक अर्थ के अनुसार 'क्लिष्टाक्लिष्टा' का अर्थ 'बंद के अंतर्गत बंद' अर्थात 'परत दर परत बंद' है जो वानस्पतिक सन्दर्भों में 'बंद-गोभी' के लिए है. ऐसा इसलिए किया गया क्योंकि वह समय भाषाओँ के उदय का समय था और प्रत्येक वस्तु के लिए प्रथक शब्द विकसित नहीं हुए थे, अतः वस्तुओं को उनके विशिष्ट गुणों के माध्यम से व्यक्त किया गया.